डाक मतपत्र बन सकते हैं BJP के मिशन 11 में रोड़ा, 42 हजार बैलेट पेपर 3 सीटों पर तय करेंगे हार जीत

छत्तीसगढ़ की तीन सीटें ऐसी हैं जिनकी हार- जीत यही मतपत्र तय करते हैं। तीन सीटें महासमुंद , कोरबा और कांकेर ऐसे लोकसभा क्षेत्र हैं जहां पर पिछले दो चुनावों में जीत-हार का आंकड़ा बहुत कम रहा है।

author-image
Deeksha Nandini Mehra
New Update
cg news
Listen to this article
0.75x 1x 1.5x
00:00 / 00:00

अरुण तिवारी @ रायपुर

Ballot Paper Counting : चुनाव के नतीजे आने की उल्टी गिनती शुरु हो गई है। 4 जून को मतगणना के बाद ईवीएम में बंद उम्मीदवारों के किस्मत फैसला सबके सामने आ जाएगा। चुनाव परिणाम की घड़ी जैसे- जैसे नजदीक आती जा रही है, वैसे ही प्रत्याशियों की धड़कनें तेज होती जा रही हैं। उम्मीदवार अपनी जीत- हार के गुणा भाग में लग गए हैं। आपको बताते हैं कि छत्तीसगढ़ में उम्मीदवारों की हार्ट बीट बढ़ गई है। प्रदेश में तीन सीटें ऐसी हैं जहां पर हार- जीत का फासला कम रहता है। काउंटिंग में सबसे पहले डाक मतपत्रों की गिनती होगी। इन सीटों पर डाक मतपत्र बहुत मायने रखते हैं। ये कौन सी सीटें हैं जहां के उम्मीदवारों की धड़कनें तेज हैं और क्या है प्रदेश में पोस्टल बैलेट पेपर का समीकरण। आइए आपको बताते हैं...। 

डाक मतपत्र हैं इन सीटों पर टेंशन 

छत्तीसगढ़ में 41 हजार 877 डाक मतपत्र  यानी करीब  42 हजार पोस्टल बैलेट डाले गए हैं। इन डाक मतपत्र का प्रयोग सरकारी कर्मचारी, बुजुर्ग और दिव्यांग वोटर्स ने किया है। कहने को तो ये मतपत्र महज 42 हजार हैं लेकिन चुनाव में इनका रोल बहुत अहम है। प्रदेश की तीन सीटें ऐसी हैं जिनकी हार जीत यही मतपत्र तय करते हैं। पिछले दो चुनावों के नतीजे कुछ इसी तरह का इशारा कर रहे हैं। छत्तीसगढ़ की तीन सीटें महासमुंद,कोरबा और कांकेर ऐसे लोकसभा क्षेत्र हैं जहां पर पिछले दो चुनावों में जीत हार का आंकड़ा बहुत कम रहा है। यानी मोदी के मिशन इलेवन में ये तीन सीटें रोड़ा बन रही हैं। इन तीन सीटों पर पोस्टल बैलेट पेपर की संख्या उतनी है जितना कि इनकी जीत हार का मार्जिन रहा है।

ये खबर पढ़िए ..छत्तीसगढ़ हीटवेव अलर्ट : आज शाम तक चलेंगी तेज गर्म हवाएं , 42 के पार पहुंचेगा तापमान

इन लोकसभा सीटों पर इतने डाक मतपत्र मिले

बस्तर : 3 हजार 264 

राजनांदगांव : 1 हजार 568

महासमुंद : 4 हजार 242 

कांकेर :  6 हजार 326 

सरगुजा : 2 हजार 440 

रायगढ़ : 3 हजार 585

जांजगीर-चांपा : 5 हजार 682

कोरबा : 2 हजार 789

बिलासपुर : 3 हजार 607

दुर्ग : 3 हजार 525 

रायपुर : 4 हजार 849 

इन सीटों पर डाक मतपत्रों की अहम भूमिका 

महासमुंद : 2014 में महासमुंद से बीजेपी के चंदूलाल साहू महज 1217 वोटों से जीते। इस बार इस सीट पर 4242 डाक मतपत्र प्राप्त हुए।

  

कोरबा : 2014 में कोरबा से बीजेपी के बंशीलाल मेहतो 4265 मतों से जीते। इस बार इस सीट पर 2789 डाक मतपत्र प्राप्त हुए हैं। 

कांकेर : 2019 में कांकेर से बीजेपी के मोहन मंडाली 6914 मतों से जीते। इस बार इस सीट पर 6326 डाक मतपत्र प्राप्त हुए हैं। 

ये खबर पढ़िए ..दुकानों पर लटके ताले, थमे बस के पहिए... पीडिया एनकाउंटर के विरोध में आज बस्तर बंद



सबसे पहले होगी डाक मतपत्रों की गिनती 

प्रदेश में कुल 41 हजार 877 डाक मतपत्र प्राप्त हुए हैं। इनमें निर्वाचन ड्यूटी में तैनात कर्मचारियों-अधिकारियों के सुविधा केन्द्रों से  26 हजार 936 डाक मतपत्र, होम वोटिंग के तहत 85 वर्ष से अधिक आयु वर्ग के मतदाताओं से प्राप्त कुल 2 हजार 761 और दिव्यांगजनों के कुल 1 हजार 453 डाक मतपत्र और अनिवार्य सेवा श्रेणी के 779 डाक मतपत्र भी शामिल हैं। इनके साथ ही सेवा मतदाताओं को जारी किए गए ईटीपीबी डाक के माध्यम से 9 हजार 948 ईटीपीबी प्राप्त हो चुके हैं। सबसे पहले डाक मतपत्रों की गिनती की जाएगी उसके बाद ईवीएम की गिनती होगी।

 ballot paper counting | BJP मिशन इलेवन | Ballot Paper | Lok Sabha election results | Lok Sabha Election Result | BJP mission 11

thesootr links

 सबसे पहले और सबसे बेहतर खबरें पाने के लिए thesootr के व्हाट्सएप चैनल को Follow करना न भूलें। join करने के लिए इसी लाइन पर क्लिक करें

द सूत्र की खबरें आपको कैसी लगती हैं? Google my Business पर हमें कमेंट के साथ रिव्यू दें। कमेंट करने के लिए इसी लिंक पर क्लिक करें

 

पोस्टल बैलेट Ballot Paper BJP मिशन इलेवन Lok Sabha election results Lok Sabha Election Result BJP mission 11 ballot paper counting