Advertisment

साय बोले- क्रिकेट का इतना दीवाना था कि खुद बनाता था अपने लिए बल्ला

छत्तीसगढ़ मुख्यमंत्री साय से क्रिकेटर आजिंक्य रहाणे ने की मुलाकात। शहीद वीर नारायण सिंह इंटरनेशनल क्रिकेट स्टेडियम में रणजी ट्रॉफी 2024 के तहत मुंबई बनाम छत्तीसगढ़ मुकाबले में भाग लेने पहुंचे हैं रहाणे

author-image
Marut raj
New Update
सीएम साय
Listen to this article
0.75x 1x 1.5x
00:00 / 00:00

रायपुर. छत्तीसगढ़ के सीएम विष्णु देव साय से शुक्रवार शाम भारतीय क्रिकेट टीम के प्लेयर आजिंक्य रहाणे मिलने पहुंचे। सीएम ने उनका स्वागत किया। इस दौरान क्रिकेट और बाकी विषयों पर भी औपचारिक चर्चा हुई।

Advertisment

कोरवा जनजाति तीरंदाजी में माहिर

हनी ट्रैप की गुलाबी डायरी से निकले BJP के पूर्व विधायक, अफसर और ठेकेदार के नाम

चर्चा के दौरान सीएम साय ने बताया कि छत्तीसगढ़ में क्रिकेट में अच्छी संभावना बन रही है। रहाणे ने मुख्यमंत्री से क्रिकेट में रुचि के बारे में पूछा। मुख्यमंत्री साय ने बताया कि क्रिकेट में इतनी रुचि(दीवाना) थी कि गांव में क्रिकेट खेलने लकड़ी से खुद बल्ला तैयार करते थे। जशपुर जिले के बारे में उन्होंने बताया कि हमारे यहां हाकी खेली जाती है। यहां पर पहाड़ी कोरवा जनजाति तीरंदाजी बहुत कौशल से करते हैं। इसलिए तीरंदाजी में भी खिलाड़ी खूब रुचि लेते हैं।

Advertisment

राज्य सेवा परीक्षा मेंस 2023 की तारीख नहीं बढ़ेगी,सोमवार को अंतिम बैठक

नए खिलाड़ी  सामने आ रहे

ग्वालियर एसपी ऑफिस में पदस्थ 71 लाख रुपए का घोटालेबाज आरक्षक गिरफ्तार

क्रिकेटर आजिंक्य रहाणे ने मुख्यमंत्री को बताया कि शहीद वीर नारायण सिंह इंटरनेशनल क्रिकेट स्टेडियम में रणजी ट्रॉफी 2024 के तहत मुंबई बनाम छत्तीसगढ़ का मुकाबला चल रहा है। वे मुंबई रणजी टीम के कैप्टन हैं। उन्होंने बताया की नवा रायपुर का क्रिकेट स्टेडियम काफी अच्छा है। यहां पर सभी जरूरी सुविधाएं उपलब्ध हैं। यहां पर अंतरराष्ट्रीय मैच होने का अलग प्रभाव पड़ा है। छत्तीसगढ़ में क्रिकेट का एक अच्छा वातावरण होने से अब यहां पर नए खिलाड़ी भी उभर कर सामने आ रहे हैं।  रहाणे ने कहा कि यहां के प्रतिभावान खिलाडियों के सहयोग के लिए वे हमेशा तैयार हैं। 

इस दौरान मुख्यमंत्री साय ने रहाणे को बेल मेटल से निर्मित मूर्ति और शॉल भेंट किया। रहाणे ने मुख्यमंत्री को मुंबई रणजी टीम का टी-शर्ट और अपना हस्ताक्षर किया हुआ बल्ला भेंट किया। इस अवसर पर मुख्यमंत्री के सचिवद्वय पी. दयानन्द और बसवराजू एस. भी मौजूद थे।

लोकायुक्त का डर हो रहा कम, जानें कितने अफसरों पर नहीं हो सके केस दर्ज

क्रिकेट साय बल्ला दीवाना
Advertisment
Advertisment