गांधी परिवार के नाम पर बनी ये संस्था भंग, जानिए क्या है मामला

कांग्रेस सरकार की इस योजना पर भाजपा विधायक धर्मजीत सिंह ने टिप्पणी करते हुए कहा कि ये योजना खाओ पियो योजना थी। विधायक धरमलाल कौशिक, अजय चंद्रकार, राजेश मूणत ने इ्रसके खर्च पर सवाल उठाए थे।

author-image
Marut raj
New Update
गांधी परिवार
Listen to this article
0.75x 1x 1.5x
00:00 / 00:00



रायपुर. राज्य में बीजेपी सरकार आने के बाद गांधी परिवार के नाम पर बनी एक संस्था को भंग कर दिया गया है। इतना ही नहीं इस संस्था में वित्तीय अनियमितता की आशंका के चलते इसका ऑडिट भी सरकार की ओर से कराया जाएगा।

जल्द लिस्ट जारी करेगी बीजेपी, इतने सांसदों के टिकट काटने की तैयारी!

 जानकारी के अनुसार छत्तीसगढ़ विधानसभा के बजट सत्र के दौरान राजीव युवा मितान क्लब का मामला सदन में उठा। इस पर जवाब देते हुए मंत्री टंकराम वर्मा ने क्लब को भंग करने और वितरण की गई राशि का ऑडिट करने की बात कही। यह मामला प्रश्नकाल में कांग्रेस विधायक सावित्री मंडावी ने उठाया था। इस पर खेल मंत्री ने जवाब दिया।

अलर्ट! इंडिया में 66 % लोग ऑनलाइन डेटिंग स्कैम का हुए शिकार

132 करोड़ रुपए का मामला

Paytm Payments Bank के लिए राहत की उम्मीद खत्म, RBI के इस फैसले के बाद क्या होगा, जानें

बता दें कि इस योजना में कुल 132 करोड़ की राशि का प्रावधान किया गया था। मंत्री वर्मा ने कहा कि क्लब को दिए गए 126 करोड़ रुपए का ऑडिट कराया जाएगा। इस योजना पर भाजपा विधायक धर्मजीत सिंह ने टिप्पणी करते हुए कहा कि ये योजना खाओ पियो योजना थी। विधायक धरमलाल कौशिक, अजय चंद्रकार, राजेश मूणत ने राजीव युवा मितान क्लब के खर्च पर सवाल उठाए। इस दौरान पक्ष और विपक्ष के बीच तीखी नोंकझोंक भी हुई।

सदन में बीजेपी विधायकों ने योजना को भंग करने की मांग की। नारेबाजे के चलते सदन में माहौल गरमा गया था। इसके बाद खेल मंत्री ने अब तक हुए खर्च का ऑडिट कराने और युवा मितान क्लब को भंग करने की घोषणा की। उल्लेखनीय है कि सरकार ने पहले ही साफ कर दिया था कि योजना को बंद कर दिया जाएगा। वहीं सदन में खेल मंत्री ने भंग करने की घोषणा भी कर दी। gaandhii-privaar | gandhi-family 

लाड़ली बहना को फिलहाल नहीं मिलेंगे 1500 रु., इतने से ही चलाना होगा काम

Gandhi Family गांधी परिवार