Jabalpur : द सूत्र की खबर का असर, गालीबाज पटवारी पर गिरी गाज, जानें पूरा मामला

जबलपुर में द सूत्र की खबर का असर देखने को मिला है। यहां किसान से अभद्रता के मामले में जांच करते हुए एसडीएम ने पटवारी जागेंद्र पिपरे को निलंबित कर दिया है। निलंबित पटवारी ने सीएम हेल्पलाइन से शिकायत वापस लेने के लिए शिकायतकर्ता से अभद्रता की थी।

author-image
Vikram Jain
New Update
Jabalpur Abusive Patwari Jagendra Pipre suspend the sootra impact
Listen to this article
0.75x 1x 1.5x
00:00 / 00:00

नील तिवारी@JABALPUR.जबलपुर में द सूत्र की खबर का बड़ा असर हुआ है। यहां 181 सीएम हेल्पलाइन पर शिकायत करने वाले शिकायतकर्ता से अभद्रता करने के मामले में पटवारी जागेंद्र पिपरे को एसडीएम ने सस्पेंड कर दिया है। साथ ही रिश्वत लेने के आरोप में भी पटवारी पर कार्रवाई की गई। इधर पटवारी पर कार्रवाई होने पर पीड़ित किसान भानु काछी (Bhanu Kachhi) ने द सूत्र (THE SOOTR) को धन्यवाद दिया है।

जानें क्या है पूरा मामला

दरअसल, पेशे से किसान भानु काछी ने अपनी जमीन के बटांक के मामले को लेकर 181 सीएम हेल्पलाइन पर शिकायत की थी। जिसके बाद शिकायतकर्ता भानु काछी को पटवारी जागेंद्र पिपरे ( (patwari jagendra pipri) ने फोन पर हेल्पलाइन से शिकायत वापस लेने के लिए धमकाते हुए अभद्रता की थी। अभद्रता किए जाने के बाद भानू ने पुलिस से लेकर कलेक्टर कार्यालय तक आवेदन दिए पर यह आवेदन जिम्मेदार अधिकारियों तक शायद पहुंच नहीं पाए। इसी बीच पीड़ित ने द सूत्र को संपर्क किया और यह खबर द सूत्र ने प्रमुखता से चलाई गई । इसके साथ ही वकील अमित जैन ने भानु को कानूनी सहायता दी और जिम्मेदारों तक उसकी शिकायत पहुंच सकी।

ये खबर भी पढ़ें... 

जबलपुर में सीएम हेल्पलाइन पर शिकायत की तो पटवारी ने दी गालियां

 

पटवारी का वकीलों से भी हुआ विवाद

मामले में शिकायत के बाद आरोपी पटवारी जागेंद्र पिपरे को कारण बताओं नोटिस जारी किया गया। एसडीएम स्तर पर चल रही इस जांच के दौरान पटवारी का वकीलों से भी विवाद हो गया। इसके बाद पटवारी पर रिश्वत लेने के आरोप भी लगे। दोनों मामलों में पटवारी की कार्यशैली को देखते हुए एसडीएम आधारताल ने जांच के दौरान पटवारी को मध्य प्रदेश सिविल सेवा आचरण नियम 1965 के उल्लंघन का दोषी पाया। जिसके बाद एसडीएम ने जागेंद्र पीपरे के निलंबन के आदेश जारी किए हैं।

ये खबर भी पढ़ें... MP में खनन माफिया का दुस्साहस, अधिकारियों से छीन ले गए ये बड़ी मशीनें

पटवारी ने कहा था- जूते से मारूंगा 

भानु के पास एक फोन कॉल आया था और फोन करने वाले जागेन्द्र पीपरी ने पहले तो कहा कि सीएम हेल्पलाइन की जानकारी चाहिए और उसके बाद धीरे-धीरे अपशब्दों का प्रयोग करते हुए भानु के साथ गाली-गलौज की। यहां तक कि उसे जूते मारने और सबक सिखाने तक की धमकी दी।

ये खबर भी पढ़ें...MP weather : 45 डिग्री तपा ग्वालियर, धार-इंदौर भीगा, कई जिलों में आंधी-बारिश का अलर्ट

ये खबर भी पढ़ें... MP में खनन माफिया का दुस्साहस, अधिकारियों से छीन ले गए ये बड़ी मशीनें

हर जुगत लगाने की कोशिश में पटवारी

अपने साथ हुई अभद्रता के बाद पीड़ित भानु काछी ने निडर और अडिग होकर पटवारी के खिलाफ लड़ाई लड़ी। भानु ने द सूत्र को धन्यवाद देते हुए बताया कि निलंबन आदेश जारी होने के बाद पटवारी ने उसे फोन किया था और मामले में समझौता करने की बात की, जिसे भानु ने सिरे से खारिज कर दिया। इसके बाद आरोपी पटवारी अपने साथ अन्य लोगों को लेकर कलेक्टर कार्यालय पहुंचा और इस कार्रवाई का विरोध दर्ज करने की कोशिश की। हालांकि पटवारी जागेंद्र पिपरे को भी अब तक यह समझ में आ चुका होगा की माफी मांगने के लिए अब काफी देर हो चुकी है, और अब उसके यह हथकंडे उसे दोबारा पद पर आकर किसी और को प्रताड़ित करने का मौका नहीं दिला पाएंगे।

गालीबाज पटवारी सस्पेंड, पटवारी जागेंद्र पिपरे, एमपी सीएम हेल्पलाइन, जबलपुर न्यूज

Abusive Patwari suspended, Patwari Jagendra Pipre, MP CM Helpline, Jabalpur News

MP CM Helpline Patwari Jagendra Pipre जबलपुर न्यूज Abusive Patwari suspended पटवारी जागेंद्र पिपरे गालीबाज पटवारी सस्पेंड एमपी सीएम हेल्पलाइन Jabalpur News