एमपी से राज्यसभा जा रहे उम्मीदवारों के बारे में क्या है खास, जानिए

एमपी में विधायकों की संख्या बल के आधार पर बीजेपी को अपने चारों उम्मीदवारों को जिताने में कोई दिक्कत नहीं आएगी। वहीं, कांग्रेस का भी एक उम्मीदवार बिना किसी परेशानी के राज्यसभा में पहुंच जाएगा। आइए आपको बताते हैं इन्हें ही आखिर क्यों चुना गया....

author-image
Marut raj
New Update
एमपी
Listen to this article
0.75x 1x 1.5x
00:00 / 00:00

भोपाल. एमपी से राज्यसभा की पांच सीटें खाली हो रही हैं। इन सीटों के लिए बीजेपी के साथ ही कांग्रेस ने भी अपने उम्मीदवार घोषित कर दिए हैं। बीजेपी की तरफ से चार उम्मीदवार मैदान में उतारे गए हैं। वहीं, कांग्रेस की तरफ से एक उम्मीदवार मैदान में है। एमपी में विधायकों की संख्या बल के आधार पर बीजेपी को अपने चारों उम्मीदवारों को जिताने में कोई दिक्कत नहीं आएगी। वहीं, कांग्रेस का भी एक उम्मीदवार बिना किसी परेशानी के राज्यसभा में पहुंच जाएगा। 

बीजेपी और कांग्रेस के उम्मीदवारों के बारे में क्या है खास 

माया नारोलिया

भारतीय जनता पार्टी ने माया नारोलिया को राज्यसभा का उम्मीदवार बनाकर एक बार फिर सभी को चौंका दिया। माया नारोलिया नर्मदापुरम निवासी है। वे चार साल से मध्य प्रदेश बीजेपी महिला मोर्चा की प्रदेश अध्यक्ष हैं। माया पूर्व में नर्मदापुरम नगर पालिका परिषद की अध्यक्ष भी रह चुकी हैं।

डॉ एल मुरुगन उमेश नाथ महाराज बंसीलाल गुर्जर  माया नारोलिया अशोक सिंह (कांग्रेस)

डॉ. एल. मुरुगन

डॉ. एल. मुरुगन केंद्रीय मत्स्य पालन, पशुपालन और डेयरी मंत्रालय के साथ-साथ सूचना एंव प्रसारण मंत्रालय में राज्य मंत्री हैं। वो बीजेपी की तमिलाडु इकाई के प्रदेश अध्यक्ष भी रह चुके हैं। इसके साथ ही वो मद्रास हाईकोर्ट के वकील भी हैं। इस समय वो मध्य प्रदेश से ही राज्यसभा का प्रतिनिधित्व कर रहे हैं।

5 साल में 22 % बढ़े बेरोजगार, कार्यालय से एक को भी नहीं मिली नौकरी

उमेश नाथ महाराज

उमेश नाथ महाराज उज्जैन के वाल्मीकि धाम आश्रम के मुख्य पीठाधेश्वर हैं। वाल्मीकि समाज से आने वाले उमेश नाथ महाराज का अपने समाज पर गहरा प्रभाव है। इसके अलावा हाल ही में मुख्यमंत्री बने मोहन यादव से लेकर केंद्रीय मंत्री अमित शाह और आरएसएस प्रमुख मोहन भागवत तक उनका आशीर्वाद लेते दिखे थे।

Deaf player ने कैसे जीता Taekwondo में गोल्ड, जानिए पूरी कहानी...

बंसीलाल गुर्जर  

मंदसौर से सटे ग्राम लालघाटी के मूल निवासी बंसीलाल गुर्जर को भाजपा ने राज्यसभा उम्मीदवार बनाया है। वे अभी भाजपा भाजपा किसान मोर्चा के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष और हुडको डायरेक्टर हैं। बंशीला वर्षों से संगठन के विभिन्न पदों पर काम कर रहे हैं। वे भाजपा के जिलाध्यक्ष से लेकर प्रदेश महामंत्री, भाजपा किसान मोर्चा प्रदेश अध्यक्ष भी रहे हैं। इसके अलावा किसान मोर्चा में ही लंबे समय से काम कर रहे हैं।

लोकायुक्त कार्रवाई की 8 साल बाद खुली पोल, कैसे रफा-दफा किया था केस

अशोक सिंह (कांग्रेस)

अशोक सिंह ग्वालियर से आते हैं। वह ग्वालियर लोकसभा सीट पर लगातार तीन बार चुनाव लड़ चुके हैं, लेकिन हर बार इनको हार ही मिली।  वह वर्तमान में मध्यप्रदेश कांग्रेस कमेटी के उपाध्यक्ष हैं और कोषाध्यक्ष भी हैं। अशोक सिंह मुख्य रूप से दिग्विजय सिंह खेमे के नेता माने जाते हैं, लेकिन अपने मिलनसार और व्यवसायी छवि की वजह से इनके संबंध में कांग्रेस के साथ ही बीजेपी नेताओं के साथ भी मधुर ही रहे हैं।  Rajya Sabha | MP

गांधी परिवार के नाम पर बनी ये संस्था भंग, जानिए क्या है मामला

एमपी MP Rajya Sabha राज्यसभा