सरकारी नौकरी में रहते चुने गए IFFCO प्रतिनिधि, नियमों की अनदेखी, अब पद से हटाने की मांग

मध्य प्रदेश में सिविल सेवा आचरण नियमों की जमकर अनदेखी हो रही है। प्रदेश के सहकारिता विभाग के 3 सहकारी निरीक्षक पद पर रहते हुए इफको के प्रतिनिधि चुने गए। नियम विरुद्ध हुए इस निर्वाचन के खिलाफ मुख्य सचिव और प्रमुख सचिव सहकारिता से शिकायत की गई है।

author-image
Vikram Jain
New Update
MP Cooperative Department IFFCO Cooperative Inspector Principal Secretary Cooperative
Listen to this article
0.75x 1x 1.5x
00:00 / 00:00

अरविंद शर्मा, BHOPAL. एमपी अजब है, सबसे गजब है यह कहावत सहकारिता विभाग (cooperative Department) के अधिकारियों पर सटीक बैठती है। यहां तीन सहकारी निरीक्षकों ने पद पर रहते हुए इफको (IFFCO) के प्रतिनिधि महासभा (आरजीबी) के निर्वाचन में हिस्सा लिया। साथ ही प्रतिनिधि भी चुने गए। अधिकारियों का चुनाव में नियमों का उल्लंघन हुआ है। अब इस मामले को लेकर मुख्य सचिव और सहकारिता विभाग के प्रमुख सचिव सहित पांच अधिकारियों से शिकायत की गई है। साथ ही तीन अधिकारियों को पद से हटाने की मांग भी की गई है।

नियम का उल्लंघन, निर्वाचन में लिया भाग

इंडियन फारमर्स फर्टिलाइजर को-ऑपरेटिव लिमिटेड (IFFCO)  की 15वीं प्रतिनिधि महासभा (आरजीबी) के गठन के लिए बीते सात मार्च  को प्रतिनिधियों का निर्वाचन आयोजित किया गया था। निर्वाचन कार्यक्रम में सहकारिता विभाग में पदस्थ तीन सहकारी निरीक्षकों ने मप्र सिविल सेवा आचरण नियम 1965 का उल्लंघन करते हुए निर्वाचन में भाग लिया। साथ ही उन्हें घोषित प्रतिनिधि निर्वाचित घोषित किया गया। यह तीनों अधिकारी सेवा सहकारी समितियों में प्रशासक के रूप में पदस्थ है।

 

ये खबर भी पढ़ें... MLA रामनिवास रावत बोले- CM मोहन यादव से दोस्ती में पट्टा डलवाया, मैं BJP में गया ही नहीं, इस्तीफा क्यों दूं?

 

ये खबर भी पढ़ें... कांग्रेस के प्रत्याशी बनने में लगे मोती सिंह को अंतिम झटका, सुप्रीम कोर्ट से भी याचिका खारिज

 

सहकारी निरीक्षक दो-दो पदों पर हैं काबिज

देवास निवासी शिकायत कर्ता रोनित शर्मा ने मुख्य सचिव और सहकारिता विभाग के प्रमुख सचिव सहित आयुक्त सहकारिता व उपायुक्त सहकारिता को शिकायती आवेदन दिया है। जिसमें कहा गया है कि सहकारी निरीक्षक दो-दो पदों पर काबिज है। साथ ही उसके बाद मप्र सिविल सेवा आचरण नियम 1965 (MP Civil Service Conduct Rules) का उल्लंघन करते हुए इफको सहकारी संस्था के निर्वाचन में हिस्सा लिया है। उन्होंने इन अधिकारियों के खिलाफ कार्रवाई की मांग की है।

ये खबर भी पढ़ें... कांग्रेस प्रत्याशी फूल सिंह बरैया ने लगाए बूथों को लूटने का आरोप

 

ये खबर भी पढ़ें... Bhojshala ASI Survey : हिंदू, मुस्लिम समाज के बाद अब बौद्ध समाज भी ठोक रहा अपना दावा, खुदाई में मिले खंडित स्तंभों के अवशेष

 

निर्वाचन में ये अधिकारी हुए थे शामिल

1. राजेंद्र सिंह ठाकुर सहकारी निरीक्षक (Cooperative Inspector) ,कार्यालय संयुक्त आयुक्त सहकारिता विभाग            इंदौर, प्रशासक गोकलपुर सेवा सहकारी समिति मर्यादित, जिला इंदौर

2. सुरेश भंडारी सहकारी निरीक्षक कार्यालय उपायुक्त सहकारिता विभाग जिला इंदौर

   प्रशासक रंगवासा बृहताकार कृषि प्राथमिक सहकारी साख संस्था मर्यादित, जिला इंदौर

   सुरेश भंडारी सहकारी निरीक्षक कार्यालय उपायुक्त सहकारिता विभाग जिला इंदौर

   प्रशासक सतेर किशनगंज सेवा सहकारी संस्था मर्यादित जिला इंदौर 

3. अमित दुबे सहकारी निरीक्षक कार्यालय उपायुक्त सहकारिता विभाग जिला इंदौर 

   प्रशासक केलोद बृहताकार प्राथमिक कृषि सहकारी साख संस्था मर्यादित जिला इंदौर

Cooperative Inspector सहकारिता विभाग सहकारी निरीक्षक मप्र सिविल सेवा आचरण नियम इफको Cooperative Department IFFCO MP Civil Service Conduct Rules