Advertisment

पिंकी के नाम की निकल गई लॉटरी, मिल गया ये बड़ा पद

खंडवा में जिला पंचायत अध्यक्ष पद के चुनाव में कांग्रेस समर्थित नानकराम बरवाहे और भाजपा समर्थिक पिंकी वानखेड़े दोनों को 8-8 वोट मिले थे। इसके बाद कलेक्टर अनूप सिंह ने चिट्ठी से लॉटरी निकाली।

author-image
Marut raj
New Update
पिंकी
Listen to this article
0.75x 1x 1.5x
00:00 / 00:00

 

Advertisment

भोपाल. मध्यप्रदेश में सोमवार को चार जिला पंचायत अध्यक्ष के पदों पर चुनाव हुए। इनमें चार जिला पंचायतों में अध्यक्ष पद पर भाजपा ने जीत दर्ज की। इनमें सीहोर, जबलपुर में निर्विरोध जीत मिली। खंडवा से लॉटरी से फैसला हुआ। अशोकनगर में भाजपा समर्थित प्रत्याशी को एकतरफा जीत मिली। सीहोर में रचना मेवाड़ा, जबलपुर में आशा मुकेश गोटिया, खंडवा में पिंकी वानखेड़े और अशोकनगर में राव अजय प्रताप सिंह यादव जिला पंचायत अध्यक्ष चुने गए हैं। 

खंडवा में फंस गया था चुनाव

किसान आंदोलन में जा रहे थे भोपाल में नजरबंद, खुफिया सूचना पर उतारा

Advertisment

खंडवा में जिला पंचायत अध्यक्ष पद का फैसला लॉटरी  (lottery )से हुआ। इसमें भाजपा समर्थित प्रत्याशी पिंकी वानखेड़े जीत गईं। यहां जिला पंचायत में 16 सदस्य हैं। कांग्रेस समर्थित नानकराम बरवाहे और भाजपा समर्थिक पिंकी वानखेड़े दोनों को 8-8 वोट मिले। इसके बाद कलेक्टर अनूप सिंह ने चिट्ठी से लॉटरी निकाली। लॉटरी में पिंकी वानखेड़े का नाम खुला। इसके बाद कलेक्टर ने उन्हें जीत का सर्टिफिकेट दे दिया। ज्ञात हो कि पूर्व जिला पंचायत अध्यक्ष व वार्ड 2 की सदस्य कंचन मुकेश तनवे के विधायक बन जाने के बाद यह पद रिक्त हुआ था।

एक महीने पहले बीजेपी में आईं और बन गईं अध्यक्ष

जबलपुर में जिला पंचायत अध्यक्ष पद के लिए भाजपा समर्थित आशा मुकेश गोटिया ने दावेदारी पेश की। वहीं, कांग्रेस समर्थित कोई दावेदार सामने नहीं आया। यहां तक कि कांग्रेस समर्थित सदस्यों ने भी आशा मुकेश गोटिया का ही समर्थन किया। बता दें कि पूर्व जिला पंचायत अध्यक्ष संतोष बरकड़े के विधायक चुने जाने के बाद से ही यह पद रिक्त था। बताया जाता है कि बीजेपी के भीतर इसकी स्क्रिप्ट एक महीने पहले ही लिखी जा चुकी थी। जब कांग्रेस छोड़कर वार्ड क्रमांक 2 से आशा मुकेश गोटिया बीजेपी में शामिल हुई थीं। यहां भाजपा समर्थित 13 सदस्य, कांग्रेस समर्थित सदस्य 4, कुल जिला पंचायत सदस्य 17 हैं।

दिल्ली कूच करने को किसान तैयार, जानें क्या हैं किसानों की 12 मांगें

सीहोर में रचना और अशोकनगर में अजय प्रताप जीते

Advertisment

PM मोदी की जड़ी-बूटी BJP कैसे जाएगी 370 पार, कांग्रेस का एक ही काम- नफरत, नफरत और नफरत

सीहोर में वार्ड 5 से सदस्य रचना सुरेंद्र मेवाड़ा को निर्विरोध जिला पंचायत अध्यक्ष चुना गया। भाजपा समर्थित सदस्य अधिक होने से कांग्रेस की ओर से दावेदारी ही नहीं की गई।  वहीं, अशोकनगर में भाजपा समर्थित राव अजय प्रताप सिंह जिला पंचायत अध्यक्ष चुन लिए गए। यहां कुल 11 वोट हैं। इनमें भाजपा समर्थित दूसरी प्रत्याशी बविता यादव को 2 वोट मिले, जबकि राव अजय प्रताप सिंह को 9 वोट मिले।जिला पंचायत अध्यक्ष पद के चुनाव

लाड़ली बहना योजना की वजह से विभागों के बजट में अड़ंगा,छात्रवृत्ति अटकी

LOTTERY लॉटरी जिला पंचायत अध्यक्ष पद के चुनाव
Advertisment
Advertisment