Advertisment

भिलाई में रहने वाली दीपिका को बनाया था ओमान में बंधक, आंख छलके आंसू

केरल की एक एजेंसी के माध्यम से वहां हाउस मैड का काम करने गई थी, लेकिन बाद में उसने एक वीडियो जारी कर बताया कि उसे वहां बंधक बनाकर रख लिया गया है। यदि उसे जल्द नहीं छुड़ाया गया तो उसे दूसरे के हाथ बेच दिया जाएगा।

author-image
Pooja Kumari
New Update
Deepika
Listen to this article
0.75x 1x 1.5x
00:00 / 00:00

BHILAI. ओमान में बंधक बनाई गई दीपिका जोगी शुक्रवार की देर रात अपने वतन और उसके बाद अपने खुसीपर स्थित घर पहुंच गई। यहां पहुंचते ही परिजनों और दीपिका के खुशी के आंसू छलक आए। उसने सुरक्षित वापसी के लिए भारत सरकार, प्रदेश के गृहमंत्री विजय शर्मा और वैशालीनगर विधायक रिकेश सेन को धन्यवाद कहा। विधायक रिकेश सेन खुद दीपिका रिसीव करने रायपुर एयरपोर्ट गए थे। ज्ञात हो कि भिलाई निगम के अंतर्गत वार्ड 27 शक्तिनगर सड़क 16 खुसीपर निवासी दीपिका जोगी पति मुकेश जोगी 30 मई 2023 से ओमान में थी। 

Advertisment

सारनाथ एक्सप्रेस में RPSF जवान से चली गोली, मौत और एक अन्य यात्री घायल

वीडियो के जरिए भेजा था संदेश



केरल की एक एजेंसी के माध्यम से वहां हाउस मैड का काम करने गई थी, लेकिन बाद में उसने एक वीडियो जारी कर बताया कि उसे वहां बंधक बनाकर रख लिया गया है। यदि उसे जल्द नहीं छुड़ाया गया तो उसे दूसरे के हाथ बेच दिया जाएगा। उसके पति मुकेश जोगी ने छावनी में तत्संबंध में रिपोर्ट लिखाई। इसके बाद विधायक रिकेश सेन ने तत्परता दिखाते हुए पहल की। प्रदेश के गृहमंत्री विजय शर्मा ने भी विदेश मंत्रालय से संपर्क किया। इसके बाद भारतीय दूतावास के माध्यम से ओमान से दीपिका को भारत लाने का प्रयास तेज हुआ। उन्हें वहां से भारत के लिए कल रात को ही फ्लाइट से रवाना किया गया। वे आज तड़के नई दिल्ली पहुंची।

Advertisment

मंत्री के बंगले पर गार्ड ने की आत्महत्या, खुद को मारी गोली

परिजनों से लिपटकर रो पड़ीं



जैसे ही दीपिका ने खुसीपर स्थित अपने घर में अपने परिजनों को देखा वह खुशी से रो पड़ीं। उन्हें देखने वालों की आंखें भी नम हो गई। दीपिका करीब साढ़े सात माह बाद यहां लौटीं। उनके चेहरे में राहत का भाव था। लेकिन उन्होंने भारत सरकार, छत्तीसगढ़ सरकार और विधायक रिकेश सेन का विशेष रूप से शुक्रिया अदा करते हुए कहा कि इनकी वजह से वे वापस सुरक्षित अपने वतन लौट पाई। ओमान में प्रताड़ना की दहशत भी उनके चेहरे पर दिखी।

अमरजीत भगत की बढ़ने वाली है मुश्किलें, ढाई करोड़ कैश और जेवर जब्त

आत्मानंद स्कूल पर श्वेत पत्र लाएगी CG सरकार, जानें ये क्या होता है ?

भिलाई
Advertisment
Advertisment