अपने ही 'घर' में भ्रष्टाचार को रोकने में नाकाम MP के राजस्व मंत्री, पटवारी ने कर दिया बड़ा खेला

इछावर विधानसभा क्षेत्र में फर्जी तरीके से पट्टे बनाए जाने का मामला उजागर हुआ है... कलेक्टर प्रवीण सिंह ने मामले की जांच के निर्देश दिए है। साथ ही उन्होंने पट्टे बनाने वाले पटवारी को निलंबित कर दिया है।

Advertisment
author-image
Amresh Kushwaha
New Update
राजस्व मंत्री करण सिंह वर्मा
Listen to this article
0.75x 1x 1.5x
00:00 / 00:00

मध्यप्रदेश के राजस्व मंत्री करण सिंह वर्मा अक्सर अपने बयानों में ईमानदारी बरतने को लेकर चर्चा में बने रहते हैं। अब एक बार फिर मंत्री चर्चा में है। इस बार उनके चर्चा में आने का कारण उन्हीं की विधानसभा क्षेत्र में हुआ भ्रष्टाचार है। इस भ्रष्टाचार के बाद उनकी ईमानदारी पर कई सवाल खड़े हो रहे हैं।

ये खबर भी पढ़िए...लाड़ली बहनों के घर का इंतजार कब होगा खत्म, विधानसभा चुनाव से पहले की थी घोषणा

35 से ज्यादा लोगों के बनाए फर्जी पट्टे

राजस्व मंत्री करण सिंह वर्मा अपने ही विधानसभा क्षेत्र के भ्रष्टाचार को रोकने में असफल रहे है। उनके क्षेत्र में पटवारी ने मोटी रकम लेकर लोगों के लिए फर्जी पट्टे बना दिए। बताया जा रहा है कि पटवारी ने 35 से ज्यादा लोगों के फर्जी पट्टे बनाए थे। अब इस मामले में कलेक्टर प्रवीण सिंह ने जांच के निर्देश दिए हैं। साथ ही उन्होंने पट्टे बनाने वाले पटवारी अधिकांश शर्मा को निलंबित कर दिया है।

ये खबर भी पढ़िए...IT छापे में उलझे कटारिया फायनेंस का 500 करोड़ से ज्यादा का कच्चा हिसाब, बेटी की शादी में सोना, चांदी बांटने से नजरों में आया

कलेक्टर ने दिए जांच के निर्देश

इछावर विधानसभा क्षेत्र में पटवारी के द्वारा फर्जी तरीके से पट्टे बनाए जाने का मामला उजागर हुआ तो विभाग में हड़कंप मच गया। कलेक्टर ने जांच के निर्देश दिए है। प्रारंभिक जांच में ही 35 से ज्यादा लोगों को पट्टे बनाए जाने की बात आई है।

कलेक्टर प्रवीण सिंह ने पटवारी को तुरंत निलंबित कर दिया है। वहीं मामले की जांच वरिष्ठ अधिकारियों की टीम बनाकर कराई जा रही है। जिसमें और भी खुलासे होने की संभावना है।

ये खबर भी पढ़िए...केंद्रीय मंत्री Amit Shah 14 July को MP को देंगे PM Excellence College की सौगात

पट्टाधारकों को नोटिस जारी

इछावर एसडीएम जमील खान ने कहा कि सरकार की धारणा अधिकार के तहत पट्टों की योजना थी। उसके तहत लोगों ने पट्टों के लिए आवेदन किए थे। जो जांच उपरांत कलेक्टर के समक्ष प्रस्तुत हुए हैं। ऐसे कई मामलों में कलेक्टर के द्वारा स्वीकृति प्रदान नहीं की गई। लेकिन ऐसी जानकारी आई है कि कुछ पट्टों को गलत तरीके से पटवारी ने बना दिए है। हमने उन पट्टाधारकों नोटिस जारी किए हैं, उनके दस्तावेजों को चेक किया जाएगा। जांच उपरांत निरस्त किए जाएंगे।

ये खबर भी पढ़िए...इंदौर में खुल रहा इंडियन नॉलेज सेंटर, केंद्रीय मंत्री अमित शाह करेंगे शुभारंभ, पौधा भी लगाएंगे

thesootr links

द सूत्र की खबरें आपको कैसी लगती हैं? Google my Business पर हमें कमेंट के साथ रिव्यू दें। कमेंट करने के लिए इसी लिंक पर क्लिक करें

इछावर पटवारी घोटाला मध्य प्रदेश के राजस्व मंत्री करण सिंह वर्मा फर्जी तरीके से पट्टा बनाया पटवारी