Advertisment

पंजाब के पूर्व सीएम के चचेरे भाई के मर्डर केस का क्या है भोपाल कनेक्शन

जितेंद्र स्टॉक मार्केट में ट्रेडिंग का काम करता है और नीतू एक इलेक्ट्रॉनिक्स शोरूम में काम करती है। नीतू ने गोवा पुलिस को बताया कि जितेंद्र उसके ही मकान में अपनी मां के साथ रहता है। जबकि नीतू अपने पिता-मां और भाई के साथ रहती है।

author-image
Pooja Kumari
New Update
punjab
Listen to this article
0.75x 1x 1.5x
00:00 / 00:00

BHOPAL. गोवा में पंजाब के पूर्व सीएम प्रकाश सिंह बादल के चचेरे भाई नरोत्तम सिंह ढिल्लो उर्फ निम्स की हत्या के आरोप में गिरफ्तार भोपाल का जितेंद्र साहू ही इस मामले का मास्टर माइंड है। जानकारी के मुताबिक जितेंद्र पूर्व में ढिल्लो का मैनेजर रह चुका है और उसे पता था कि ढिल्लो पंजाब में राजनीतिक रसूख रखने वाले परिवार से दूर अकेले रहकर गोवा में शाही जिंदगी जीते हैं। गोवा में उनके नाम विला और होटल भी हैं। जितेंद्र विला को हड़पना चाहता था। इसलिए उसने ढिल्लो को हनी ट्रैप में फंसाने की योजना बनाई। इस दौरान उसने नवीन नगर, ऐशबाग निवासी अपनी गर्लफ्रेंड नीतू शंकर राहुजा से ढिल्लो की पहचान कराई थी।

Advertisment

नीतीश के बाद उद्धव भी डांवाडोल, 10 दिन में INDIA को 4 झटके

ऐसे फंसाया जाल में 



जितेंद्र ने पूछताछ के दौरान गोवा पुलिस को बताया कि उसने नीतू को बताया था कि ढिल्लो बहुत पैसे वाला आदमी हैं, तुम उनके साथ थोड़ा वक्त बिता लेना। इससे खुश होकर वे करोड़ों रुपए दे देंगे। लेकिन ढिल्लो को बताया था कि नीतू अपनी इच्छा से मिलने आ रही है। शनिवार रात दो बजे तक सभी पार्टी करते रहे। इसी बीच ढिल्लो जितेंद्र के इशारे पर नीतू के करीब आने लगे, तभी नीतू ने ढिल्लो के गलत मंसूबे समझकर उनकी हरकतों का विरोध किया। उसने धक्का देकर ढिल्लो को गिरा दिया। विवाद होने पर जितेंद्र ने अपने दो साथियों और नीतू के साथ मिलकर ढिल्लो का गला घोंटकर हत्या कर दी। इसके बाद करीब 45 लाख रुपए नकदी और जेवर लेकर जितेंद्र वहां से फरार हो गया। 

Advertisment

CM योगी को जान से मारने की धमकी, खालिस्तानी आतंकी पन्नू ने भेजा ऑडियो मैसेज, जानें मैसेज में क्या कहा और क्यों भड़का यह आतंकी

ढिल्लो 1994 में अमेरिका से लोटे ते भारत



गोवा पुलिस ने जानकारी देते हुए बताया कि ढिल्लो 1994 में अमेरिका से भारत लौटे थे। अमेरिका में उनका अपना फरारी कार डीलरशिप और हीरे का कारोबार था। ढिल्लो पंजाब में बादल गांव के निवासी थे। उनके पास गोवा, दिल्ली, शिमला और बादल गांव में कई संपत्तियां थीं। अमेरिका के बाद वे कनाडा में रहने लगे। बाद में गोवा शिफ्ट हो गए। गोवा पुलिस की सूचना पर क्राइम ब्रांच मुंबई ने 32 वर्षीय जितेंद्र साहू और 22 वर्षीय नीतू राहुजा को गिरफ्तार किया है। दोनों नवीन नगर ऐशबाग में रहते हैं। 

Advertisment

कमलनाथ, बघेल और गहलोत का अब क्या होगा? जानिए कांग्रेस हारे दिग्गजों का कैसे करती रही है इस्तेमाल

दोनों एक-दूसरे से करते हैं प्रेम 



बता दें कि जितेंद्र स्टॉक मार्केट में ट्रेडिंग का काम करता है और नीतू एक इलेक्ट्रॉनिक्स शोरूम में काम करती है। नीतू ने गोवा पुलिस को बताया कि जितेंद्र उसके ही मकान में अपनी मां के साथ रहता है। जबकि नीतू अपने पिता-मां और भाई के साथ रहती है। एक ही मकान में रहने की वजह से दोनों की पहचान हो गई थी और कुछ समय बाद दोनों एक-दूसरे से प्रेम करने लगे थे। पूछताछ के दौरान नीतू ने पुलिस को बताया कि 4 फरवरी की रात करीब 3 बजे ढिल्लो ने उसके साथ छेड़छाड़ की थी, जिसे लेकर दोनों में विवाद हुआ। उससे ये सहन नहीं हुआ। दोस्तों के साथ मिलकर उनकी हत्या कर दी। सुबह ढिल्लो के विला की मैनेजर सीमा सिंह ने उन्हें मृत देख पुलिस को सूचना दी।

Advertisment

मुख्यमंत्री बनने के बाद मोहन यादव को पहले ही चुनाव में मिली करारी हार, सिर्फ 5 वोट मिले, सीएम नहीं थे जब भरा था पर्चा

छेड़छाड़ की बात को लेकर ढिल्लों से हुआ था विवाद



पंजाब के पूर्व मुख्यमंत्री प्रकाश सिंह बादल के चचेरे भाई नरोत्तम सिंह ढिल्लों की गोवा में हत्या करने वाले भोपाल के युवक-युवती को महाराष्ट्र पुलिस ने गिरफ्तार किया है। दोनों गोवा में किराए पर ली गई कार से महाराष्ट्र भागे थे। 4 फरवरी को भोपाल की अरमान कॉलोनी में रहने वाली नीतू राहुजा इंस्टाग्राम पर ढिल्लों से बात करती थी। ढिल्लों ने ही उसे गोवा आने के लिए कहा था। वह अपने प्रेमी जितेंद्र साहू और दो अन्य दोस्त के साथ गोवा गई थी। चारों उसके विला में रुके थे। छेड़छाड़ की बात को लेकर उनका ढिल्लों से विवाद हुआ। चारों ने उसकी गला घोंटकर हत्या कर दी और फरार हो गए।

मध्यप्रदेश
Advertisment
Advertisment