Advertisment

बीस साल बाद कोई सीएम नहीं बल्कि वित्त मंत्री पेश करेगा अंतरिम बजट, आज दिया कुमारी के लिए बड़ा दिन

राजस्थान की राजनीति में बीस वर्ष बाद आज पहला मौका जब कोई सीएम नही बल्कि वित्त मंत्री अंतरिम बजट या लेखानुदान पेश करेगा। राजस्थान की भाजनलाल सरकार की वित्त मंत्री दिया कुमारी आज लेखानुदान पेश करेंगी और विधानसभा से चार माह के खर्च की अनुमति लेंगी।

author-image
Pratibha Rana
New Update
J

वित्त मंत्री दिया कुमारी

Listen to this article
0.75x 1x 1.5x
00:00 / 00:00

मनीष गोधा, JAIPUR. राजस्थान ( Rajasthan Budget 2024 )की राजनीति में बीस वर्ष बाद आज पहला मौका जब कोई सीएम नहीं बल्कि वित्त मंत्री अंतरिम बजट या लेखानुदान पेश करेगा। राजस्थान की भजनलाल सरकार की वित्त मंत्री दिया कुमारी ( diyaa-kumaarii ) आज लेखानुदान पेश (  Vote on Account Budget )  करेंगी और विधानसभा से चार माह के खर्च की अनुमति लेंगी। यह भी एक इतिहास ( Budget of Rajasthan )बनेगा कि कोई महिला वित्त मंत्री के रूप में बजट पेश करेगी।

Advertisment

थाना परिसर की 100 करोड़ से ज्यादा की जमीन पर बीजेपी नेताओं का कब्जा

वित्त मंत्री दीया कुमारी ने बजट को दिया अन्तिम रूप

राजस्थान में पिछले बीस साल के दौरान दो बार वसुंधरा राजे और दो बार अशोक गहलोत सीएम रहे और दोनों ने ही वित्त मंत्री का पद अपने पास रखा, इसलिए बजट वे ही पेश करते रहे। लेकिन इस बार सीएम भजन लाल शर्मा ने वित्त मंत्री दिया कुमारी को बनाया है और वे आज पूरा बजट तो नहीं लेकिन अंतरिम बजट पेश करेंगी क्योंकि पूरा बजट जून में लोकसभा चुनाव के बाद ही आएगा। 

Advertisment

इंदौर गुरुसिंघ सभा चुनाव पर असमंजस, गुरुवार को होगी चुनाव कमेटी बैठक

सभी वर्गों पर रखेंगे ध्यान

लोकसभा चुनाव से ठीक पहले पेश हो रहे इस अंतरिम बजट से भी कुछ राहत भरी घोषणाओं की उम्मीद भी हर वर्ग को है। हालांकि, अंतरिम बजट में बड़ी-बड़ी नई घोषणाएं करने की परंपरा नहीं है, लेकिन कोई संवैधानिक पाबंदी भी नहीं है इसलिए संभावना यह भी जताई जा रही है कि भले ही वित्त मंत्री दिया कुमारी नई योजनाओं की घोषणा इस बजट में ना करें, लेकिन कुछ योजनाओं में प्रावधान करके राहत के छींटे जरूर दे सकती हैं। 

Advertisment

सिंधिया ने DFO को फटकारा, कहा-क्या तमाशा चल रहा है?, जानें पूरा मामला

पेट्रोल डीजल में कम हो सकता है वैट 

दीया कुमारी विधानसभा में युवाओं को देखते हुए नई भर्तियों की घोषणा कर सकती हैं। डीजल-पेट्रोल पर वैट कम करने की घोषणा हो सकती है या फिर इसकी समीक्षा को लेकर कमेटी बनाई जा सकती है। इसके साथ ही महिलाओं को आत्मनिर्भर बनाने को लेकर कुछ योजनाएं ला सकती है। इसके अलावा कर्मचारियों के लिए ओल्ड पेंशन स्कीम को लेकर बनी भ्रम की स्थिति को देखते हुए कोई घोषणा हो सकती है।

MP के मुख्यमंत्री मोहन यादव ने हवा में उड़ाए पूर्व सीएम शिवराज के आदेश

Rajasthan Budget 2024 Vote on Account Budget Budget of Rajasthan राजस्थान की भजनलाल सरकार
Advertisment
Advertisment