Rajnath Singh बोले- आमचो मोदी, आमची भाजपा, आमची सरकार, Rahul Gandhi ने कहा, तीन फीसदी की मौज बाकी कर रहे मजदूरी

राजनाथ सिंह और राहुल गांधी शनिवार को छत्तीसगढ़ के बस्तर में थे। राजनाथ सिंह ने देश में रामराज्य लाने की बात कही। इसके जवाब में राहुल गांधी ने कहा कि मोदी सरकार में तीन फीसदी लोग मौज उड़ा रहे हैं। उन्होंने फिर जातीय जनगणना का मुद्दा छेड़ा...

author-image
Jitendra Shrivastava
New Update
thesootr

राजनाथ सिंह और राहुल गांधी का बस्तर दौरा।

Listen to this article
0.75x 1x 1.5x
00:00 / 00:00

अरुण तिवारी, RAIPUR. शनिवार का दिन छत्तीसगढ़ में घमासान का दिन रहा। चुनावी दंगल में दो पहलवान उतरे। बीजेपी की ओर से रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ( Rajnath Singh ) तो कांग्रेस की तरफ से राहुल गांधी ( Rahul Gandhi )। दोनों का दौरा बस्तर में था, जहां पहले चरण में चुनाव होने हैं। राजनाथ सिंह ने कांग्रेस को भ्रष्टाचार की सरकार बताया और वन नेशन वन इलेक्शन की बात दोहराई। वे छत्तीसगढ़ी में बोले कि आमचो मोदी, आमची भाजपा, आमची सरकार। उन्होंने देश में रामराज्य लाने की बात भी कही। इसका जवाब राहुल गांधी ने भी बस्तर में ही दिया। राहुल ने कहा कि मोदी सरकार में तीन फीसदी लोग मौज उड़ा रहे हैं और बाकी के लोग मजदूरी कर रहे हैं। राहुल ने किसानों का कर्ज माफ, गरीब महिलाओं को एक लाख सालाना, तीस लाख सरकारी पदों पर भर्ती और प्रायवेट और सरकारी कंपनियों में युवाओं को ट्रेनिंग देने की अपनी गारंटी का वादा दोहराया। 

छत्तीसगढ़ में तो गोबर में ही घोटाला : राजनाथ

राजनाथ सिंह ने कांग्रेस पर निशाना साधते हुए कहा कि जब भी कांग्रेस सरकार में आई घोटाला लाई। छत्तीसगढ़ में तो गोठान और गोबर में ही घोटाला कर दिया। राजनाथ ने वन नेशन वन इलेक्शन की बात भी दोहराई। उन्होंने कहा कि लोकसभा विधानसभा के चुनाव एक साल होना चाहिए। उन्होंने कहा कि विष्णुदेव साय बहुत सरल नेता हैं। तीसरी बार मोदी सरकार बनने पर छत्तीसगढ़ का विकास बहुत तेजी से होगा। आपने स्वाद बदलने के लिए बीच में कांग्रेस की सरकार लाकर देख लिया सिवाय घोटाले के कुछ नहीं हुआ। उन्होंने कहा कि हमारे उपर एक भी भ्रष्टाचार का आरोप नहीं है। सेना में आदिवासी भाई काम कर रहे हैं। साहस और शौर्य की जरुरत के वक्त आदिवासी शर्ट की बटन खोलकर काम करते हैं। मोदी सरकार ने 35 हजार करोड़ के विकास कार्य प्रदेश में किए हैं। कांग्रेस वादे करती है, लेकिन पूरा नहीं करती। हम जो कहते हैं वो करते हैं। अयोध्या में भव्य राम मंदिर बना है अब राम कुटिया से निकलकर महल में आ गए हैं। अब भारत में रामराज्य का श्रीगणेश होगा। इस चुनाव में छत्तीसगढ़ में कांग्रेस निपट जाएगी। 

ये खबरें भी पढ़ें...

उल्टा पड़ा मोदी को धमकाने का वार, महंत के बाद अब लखमा पर एफआईआर

Liquor Scam : अनवर ढेबर के परिजनों के घर-होटल में ACB ने मारे छापे

Lok Sabha election बीजेपी के लिए मोदी का वन मैन शो, कांग्रेस के लिए राहुल-प्रियंका से बड़े नारी न्याय के एक लाख

छत्तीसगढ़ के हर लोकसभा क्षेत्र में एक-एक सीनियर ने थामा नाराज नेताओं के हाथ

बीजेपी आदिवासियों की नहीं अमीरों की सरकार : राहुल

बस्तर में राहुल गांधी ने भी सभा की। उन्होंने चुन-चुनकर मोदी सरकार पर निशाने साधे। साथ ही अपनी पांच गारंटियों के बारे में भी बताया। राहुल ने कहा कि कांग्रेस संविधान बचाने के लिए लड़ रही है। मोदी, अडाणी, आरएसएस, संविधान और लोकतंत्र पर आक्रमण कर रहे हैं, संविधान खत्म करने की कोशिश की जा रही है। हम आदिवासी कहते हैं क्योंकि जल, जंगल और जमीन के असली मालिक आदिवासी हैं। मोदी वनवासी कहते हैं ताकि आप लोग वन में रहें और आपको अधिकार न देने पड़ें। राहुल ने कहा कि मोदी सरकार आदिवासियों से जल, जंगल, जमीन छीनकर अडाणी को देना चाहती है। मोदी चाहते हैं कि आपके बच्चे बड़े कॉलेज में न जाएं, बड़ी कंपनियों में काम न करें, नौकरशाह न बनें, लेकिन हम चाहते हैं देश में आपको भागीदारी मिले, धन मिले, बच्चों को शिक्षा मिले, कॉलेज यूनिविर्सटी में जगह मिले। राहुल ने कहा कि मोदी का फोकस समुद्र में घुसकर पूजा करने पर और कोविड में थाली बजवाने पर है। बेरोजगारी जैसे मुद्दे पर वे बात ही नहीं करना चाहते। अदानी, अंबानी जैसे पांच-छह लोगों को पूरा फायदा पहुंचा रहे हैं। चौबीस घंटे वे इन लोगों की मदद में ही लगे रहते हैं। मीडिया भी बेरोजगारी की बात नहीं करती। मीडिया में भी आदिवासी नहीं हैं। बीजेपी नेता आदिवासी पर पेशाब करते हैं। राहुल ने अपनी पांच गारंटियां बताते हुए कहा कि हमारी सरकार बनते ही तीस लाख सरकारी वेकेंसी को भरेंगे। सरकारी और प्रायवेट कंपनियों में पढ़े लिखे और डिप्लोमा होल्डर्स के लिए अप्रेंटिसशिप लागू करेंगे। साल में ट्रेनिंग के साथ एक लाख रुपए देंगे। सरकारी और प्रायवेट संस्थानों में ठेकेदारी प्रथा खत्म करेंगे। किसानों का कर्ज माफ करेंगे और गरीब महिलाओं को साल में एक लाख रुपए यानी साढ़े आठ हजार रुपए महीने देंगे। राहुल ने एक बार फिर जातीय जनगणना का मुद्दा छेड़ा। उन्होंने कहा कि जिसकी जितनी आबादी है उसको सरकार में उतनी ही भागीदारी मिलेगी।

Rajnath Singh Rahul Gandhi