IPO : मिनटों में 1 लाख बन गए 5 लाख रुपए, शेयर बाजार में IPO ने ली धमाकेदार एंट्री

इस आईपीओ का प्राइस बैंड 75 रुपए प्रति शेयर तय किया गया था और इसकी लिस्टिंग 386 फीसदी के प्रीमियम पर हुई है। निवेशकों के लिए ये SME IPO जबरदस्त फायदा कराने वाला इश्यू साबित हुआ है।

author-image
Sandeep Kumar
New Update
2024-05-14T144920.022.jpg
Listen to this article
0.75x 1x 1.5x
00:00 / 00:00

मंगलवार यानी आज 14 मई को शेयर बाजार ( Share Market ) में विंसोन इंजीनियर्स के आईपीओ ( Winsol Engineers IPO ) की धमाकेदार लिस्टिंग हुई। एसएमई कैटेगरी के इस आईपीओ ने पहले ही अपने निवेशकों को ताबड़तोड़ मुनाफा कराया है। और हर एक शेयर पर 290 रुपए का फायदा हुआ है। इस आईपीओ का प्राइस बैंड 75 रुपए प्रति शेयर तय किया गया था और इसकी लिस्टिंग 386 फीसदी के प्रीमियम पर हुई है। निवेशकों के लिए ये SME IPO जबरदस्त फायदा कराने वाला इश्यू साबित हुआ है।

1 लाख को झटके में बना दिया पांच लाख !

विंसोल इंजीनियर्स के SME IPO के तहत 1600 शेयरों का लॉट साइज था और इसमें एक लॉट के लिए निवेशकों को 1 लाख 20 हजार रुपए का निवेश करना था। अब लिस्टिंग 386 फीसदी के प्रीमियम पर हुई है, इस हिसाब से देखें तो अगर किसी रिटेल इन्वेस्टर को इस कंपनी का एक लॉट अलॉट हुआ होगा, तो उनका 1.20 लाख रुपए का निवेश लिस्टिंग के साथ ही 5 लाख 83 हजार 2 सौ 00 रुपए हो गया होगा। इसमें 4 लाख 63 हजार 200 रुपए मुनाफा शामिल है।

IPO को मिला था जबरदस्त रिस्पांस

विंसोल इंजीनियर्स आईपीओ 6 मई को सब्सक्रिप्शन के लिए ओपन हुआ था और 9 मई तक इसमें पैसे लगाए गए थे। इस SME IPO को कुल मिलाकर 682.14 गुना का सब्सक्रिप्शन मिला था, इस कंपनी के आईपीओ के तहत ऑफर किए गए 20.73 लाख शेयरों की तुलना में इश्यू को 141.44 करोड़ इक्विटी शेयरों के लिए बोलियां मिली थीं। इसमें क्वालिफाइड इंस्टीट्यूशनल बायर्स (QIB) के लिए रिजर्व हिस्सा 207.23 गुना, नॉन-इंस्टीट्यूशनल इनवेस्टर्स (NII) का हिस्सा 1,087.81 गुना और रिटेल इन्वेस्टर्स का हिस्सा 780.15 गुना भरा था। Winsol Engineers IPO के तहत कंपनी ने 10 रुपए की फेस वैल्यू वाले शेयर के लिए 71-75 रुपये प्रति इक्विटी शेयर का प्राइसबैंड तय किया था। इसकी लिस्टिंग NSE SME पर हुई है। आम निवेशकों के लिए ओपन होने से पहले इसे एंकर इन्वेस्टर्स के लिए खोला गया था और वहां से भी इसे जोरदार रिस्पांस मिला था। विंसोल इंजीनियर्स ने अपने एंकर निवेशकों से 6.62 करोड़ रुपए की रकम जुटाई थी।

क्या करती है कंपनी ?

विंसोल इंजीनियर्स ( Winsol Engineers ) की स्थापना साल 2015 में की गई थी और ये कंपनी सोलर और विंड सेक्टर में काम कर रही है। इस कंपनी की प्रमुख सर्विसेज में सिविल और इलेक्ट्रिकल सबस्टेशन परियोजनाएं शामिल हैं।कंपनी को लगातार बड़े ऑर्डर मिलने से इसकी कमाई भी बढ़ रही है। इसका अंदाजा इस बात से लगाया जा सकता है कि पिछले वित्त वर्ष 2023-24 के पहले 9 महीने यानी अप्रैल-दिसंबर 2023 में इसे 6.77 करोड़ रुपए का शुद्ध मुनाफा और 52.02 करोड़ रुपये का रेवेन्यू हासिल किया था।

share market Winsol Engineers IPO आईपीओ SME IPO शेयर बाजार NSE SME Winsol Engineers