कांग्रेस लड़ाएगी 5 MLA को Lok Sabha, BJP में चार सांसदों पर लटकी तलवार

मध्यप्रदेश लोकसभा चुनाव के लिए हम आज दस और सीटों पर वे नाम बताने जा रहे हैं जो आने वाले समय में उम्मीदवार हो सकते हैं। कांग्रेस अपने मौजूदा विधायकों पर दांव लगाने जा रही है वहीं बीजेपी के चार सीटों पर मौजूदा सांसदों पर टिकट कटने की तलवार लटक रही है। 

author-image
Jitendra Shrivastava
New Update
THESOOTR

मध्यप्रदेश लोकसभा चुनाव के लिए संभावित उम्मीदवार।

Listen to this article
0.75x 1x 1.5x
00:00 / 00:00

अरुण तिवारी, BHOPAL. लोकसभा उम्मीदवारों को लेकर कांग्रेस-बीजेपी में मशक्कत जारी है। इससे पहले हमने दोनों पार्टियों के दस लोकसभा सीटों पर संभावित उम्मीदवार बताए थे। आज दस और सीटों पर वे नाम बताने जा रहे हैं जो आने वाले समय में उम्मीदवार हो सकते हैं। कांग्रेस अपने मौजूदा विधायकों पर दांव लगाने जा रही है तो बीजेपी को मौजूदा सांसदों पर भरोसा है। हालांकि, चार सीटों पर मौजूदा सांसदों पर टिकट कटने की तलवार लटक रही है। 

Lok Sabha कांग्रेस के पास टोटा-बीजेपी के पास कतार 

कांग्रेस के पास जिताउ उम्मीदवारों का टोटा है तो बीजेपी के पास दावेदारों की कतार लगी हुई है। कांग्रेस या तो मौजूदा विधायकों को या फिर हाल ही में विधानसभा चुनाव हारे नेताओं में ही अपनी जीत तलाश रही है। कांग्रेस की चार लोकसभा (Lok Sabha) सीटें ऐसी हैं जहां पर पैनल में मौजूदा विधायकों के नाम लिखे गए हैं। बाकी सीटों पर चुनाव हारे उम्मीदवार भी पैनल में शामिल हैं। वहीं बीजेपी टीकमगढ़, सागर और मंडला पर उम्मीदवार बदलने वाली है। ये वे नेता हैं जो तीन बार सांसद रह चुके हैं। वहीं फग्गन सिंह कुलस्ते विधानसभा चुनाव हारे हैं इसलिए उनकी टिकट भी कट सकती है। धार से बीजेपी मौजूदा सांसद की जगह राज्यसभा सदस्य सुमेर सिंह सोलंकी को उम्मीदवार बना सकती है। 

ये खबरें भी पढ़ें...

Lok Sabha के लिए कांग्रेस उम्मीदवार का पैनल तैयार, BJP में मशक्कत जारी

Bhopal में भाजपा प्रदेश चुनाव समिति की बैठक आज, नामों का पैनल होगा फाइनल

MP की माली हालत सुधारने Mohan Yadav की नई कोशिश, चलेंगे एयर क्राफ्ट

CM Mohan Yadav ने ट्रांसपोर्ट एसोसिएशन को किया आश्वस्त

दस सीटों पर दोनों कांग्रेस-बीजेपी के संभावित उम्मीदवार...  

खंडवा : 

कांग्रेस :

अरुण यादव- पूर्व सांसद, पूर्व केंद्रीय मंत्री, पूर्व पीसीसी अध्यक्ष, क्षेत्र में प्रभाव, ओबीसी वर्ग 

रवि जोशी- पूर्व विधायक, विधानसभा चुनाव में हार के बाद दावेदार, कमलनाथ के करीबी

बीजेपी :

ज्ञानेश्वर पाटिल- सिटिंग सांसद

टीकमगढ़ : 

कांग्रेस : 

एनपी प्रजापति- पूर्व विधानसभा अध्यक्ष, कांग्रेस में एससी वर्ग के बड़े नेता

किरण अहिरवार- बुंदेलखंड की सक्रिय महिला नेता, पिछला लोकसभा चुनाव और विधानसभा चुनाव में थीं उम्मीदवार

बीजेपी : 

वीरेंद्र खटीक- सिटिंग सांसद, नए चेहरे को मौका

सागर : 

कांग्रेस :

प्रभु सिंह- पूर्व मंत्री, ओबीसी वर्ग 

अरुणोदय चौबे- दो बार विधायक रहे, कमलनाथ के करीबी 

बीजेपी : 

राजबहादुर सिंह- सिटिंग सांसद, नए चेहरे को मौका

मंडला : 

कांग्रेस :

नारायण पट्टा- विधायक

भूपेंद्र मरावी- विधानसभा चुनाव हारे, आदिवासियों में पैठ

एनपी बरकड़े- पूर्व आईपीएस, विधानसभा में नहीं मिला टिकट, मंडला के मूल निवासी

बीजेपी : 

फग्गन सिंह कुलस्ते- सिटिंग सांसद, 

नए चेहरे को मौका

शहडोल : 

कांग्रेस : 

फुंदेलाल मार्को- पुष्पराजगढ़ से लगातार डेढ़ दशक से विधायक

 यशोदा सिंह पाटले- नया चेहरा, महिला आदिवासी नेता

बीजेपी : 

हिमाद्री सिंह- सिटिंग सांसद 

बालाघाट : 

कांग्रेस :

हिना कांवरे- दो बार विधायक रहीं, पूर्व विधानसभा उपाध्यक्ष, विधानसभा चुनाव हारीं

मधु भगत- मौजूदा विधायक

सम्राट सिंह- युवा नेता, युवाओं में जनाधार

बोध सिंह भगत- पूर्व सांसद, बीजेपी से कांग्रेस में आए, विधानसभा चुनाव हारे, 

बीजेपी : 

ढाल सिंह बिसेन- सिटिंग सांसद

बैतूल : 

कांग्रेस :

रामू टेकाम- आदिवासी युवा चेहरा, आदिवासी कांग्रेस के अध्यक्ष, कमलनाथ के करीबी

ब्रह्मा भलावी- पूर्व विधायक, विधानसभा चुनाव में टिकट कटा

बीजेपी : 

दुर्गादास उइके- सिटिंग सांसद 

उज्जैन : 

कांग्रेस :

महेश परमार
- दो बार के विधायक

रामलाल मालवीय- पूर्व विधायक, विधानसभा चुनाव में हार

बीजेपी : 

अनिल फिरोजिया- सिटिंग सांसद 

देवास : 

कांग्रेस : 

सज्जन सिंह वर्मा- कांग्रेस के वरिष्ठ नेता, पूर्व सांसद, पूर्व मंत्री, विधानसभा चुनाव हारे

विपिन वानखेड़े- युवा नेता, पूर्व विधायक, विधानसभा चुनाव में हार

बीजेपी : 

महेंद्र सिंह सोलंकी- सिटिंग सांसद  

धार : 

कांग्रेस : 

सुरेंद्र सिंह बघेल- तीन बार के विधायक

पांचीलाल मेड़ा- पूर्व विधायक, विधानसभा चुनाव में हार

बीजेपी : 

छतर सिंह दरबार- सिटिंग सांसद

सुमेर सिंह सोलंकी- राज्यसभा सांसद, पढ़ा लिखा युवा चेहरा, केंद्रीय नेतृत्व की पसंद

Lok Sabha लोकसभा उम्मीदवार